November 30, 2019 Team 0Comment

महाराष्ट्र सत्ता कब आने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी के लिए कर्नाटक से भी बु’री खबर सामने आ रही है। राजनीतिक सूत्रों की मानें तो इस वक्त बीजेपी के लिए कर्नाटक में भी अपनी सरकार बचाने की चु’नौ’ती सामने आ चुकी है। दरअसल हर राज्य में 15 विधानसभा सीटों के लिए उप चुनाव हो रहे हैं और बीजेपी को राज्य में सरकार बचाने के लिए हर हाल में 8 सीटें जीतनी होंगी।

अगर ऐसा नहीं हो पाता तो कर्नाटक में सत्तारूढ़ बीएस येद्दियुरप्पा की सरकार गिरने के आसार बन सकते हैं। कर्नाटक बीजेपी से जुड़े नेताओं का कहना है कि जिन 15 सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं। वहां पर कांटे का मुकाबला हो सकता है। आपको बता दें कि कर्नाटक में 5 दिसंबर को चुनाव होने वाले हैं। जिसके लिए भारतीय जनता पार्टी काफी चिं’ता में चल रही है।

बताया जा रहा है कि बीजेपी ने कांग्रेस-जेडीेएस को छोड़ कर बीजेपी में शामिल हुए विधायकों को इन 15 सीटों पर अपना उम्मीदवार बनाया है। दिक्कत यह है कि इन प्रत्याशियों से उनके पूर्व के कैडर और समर्थक (कांग्रेस-जेडीएस) उनके वि’श्वासघा’त से नाराज हैं। दूसरी तरफ बीजेपी के कैडर भी पार्टी के इस फैसले से नाराज हैं। यानी कि कर्नाटक में इस वक़्त बीजेपी दोतरफ़ा घि’री हुई है।

कर्नाटक बीजेपी के लोग बार-बार येदियुरप्पा से यह कह रहे हैं कि जब जब कोर्ट ने इन्हे अयोग्य करार दे दिया तो फिर इन सभी को विधानसभा का उप-चुनाव लड़ाने की कोई बा’ध्य’ता नहीं थी। इनकी जगह बीजेपी के मूल कैडर के लोगों को ही चुनाव ल’ड़ाना चाहिए था।

Bjp1
Photo by Sumit/karehop via Getty Images

बीजेपी इस वक्त इन्हीं कोशिशों में है कि वह अपने कार्यकर्ताओं को किसी भी तरह से मना ले लेकिन बीजेपी के टिकट पर चुनाव ल’ड़ने वाले उम्मीदवारों को बीजेपी कैडरों की ना’राज’गी खुद दिख रही है। दूसरी तरफ से यह मी द्वारा अपने पूर्व समर्थकों को यह तर्क दे रहे हैं कि कांग्रेस जेडीएस ने उन्हें स’म्मान नहीं दिया था इसलिए उन्होंने बीजेपी का हाथ थाम लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *