December 3, 2019 Team 0Comment

महाराष्ट्र में हाल ही में उद्धव ठाकरे की सरकार बनी है। जिसके बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने बीजेपी के नेतृत्व वाली पिछली सरकार के दौरान लिए गए एक बड़े फैसले को पलटने का काम किया है। सीएम ठाकरे ने महाराष्ट्र में जैसे ही कमान संभाली तभी गुजरात से संबंधित एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी को मिला 321 करोड़ रुपये का ठेका रद्द कर दिया।

बताया जा रहा है कि इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ‘अंतरराष्ट्रीय घोड़ा मेले’ का आयोजन करने वाली थी। लेकिन हाल ही में ये कंपनी गंभीर वित्तीय अनियमितताओं के आरोप में घिर गई है। जानकारी के मुताबिक, 26 दिसंबर, 2017 को राज्य-संचालित महाराष्ट्र टूरिज्म डेवेलपमेंट कारपोरेशन (MTDC) ने अहमदाबाद के ‘लल्लूजी एंड संस’ के साथ तुर्की के आधार पर नंदुरबार में सारंगखेड़ा दीपक समारोह के लिए कॉन्सेप्ट, डिजाइन, प्रबंधन और संचालन के लिए समझौता किया था।

Amit
Photo by Sumit/karehop via Getty Images

यह कंपनी पहले कुंभ मेले और रण उत्सव के लिए काम कर चुकी थी। लेकिन इस साल 28 नवंबर को महाराष्ट्र में सरकार बनाने के बाद उद्धव ठाकरे ने सीएम पद की शपथ ली तो राज्य के टूरिज्म डिपार्टमेंट ने मुख्य सचिव अजय मेहता के आदेशों का पालन करते हुए अनुबंध को “त’त्का’ल र’द्द” करने का निर्देश दिया।

नवंबर 2017 में तत्कालीन मंत्री जयकुमार रावल की अध्यक्षता में एमटीडीसी के निदेशक मंडल ने आयोजन को व्यापक पैमाने पर बढ़ावा देने के लिए एक प्रस्ताव अपनाया। निगम ने उसी महीने एक इवेंट मैनेजमेंट एजेंसी का चयन करने के लिए एक टेंडर जारी किया और तीन बोली लगाने वालों में से लल्लूजी एंड संस का चुनाव किया।

Uddhav
Photo by Sumit/karehop via Getty Images

एमटीडीसी और फर्म के बीच की ए’ग्रीमें’ट के मुताबिक 2017-18 से 2026-27 तक महोत्सव के आयोजन और मार्केटिंग के लिए 321 करोड़ रुपये खर्च किए जाने थे। निगम ने इन दस सालों में ठेकेदार को वाइबिलिटी गैप फंड के रूप में 75.45 करोड़ रुपये (टैक्स मिलाकर) देने की प्र’तिब’द्ध’ता जाहिर की थी।

सितंबर 2018 में हालांकि प्रिंसिपल अकाउंटेंट जनरल के कार्यालय ने एक ऑडिट में आ’प’त्ति उठाई और आ’रो’प लगाया गया कि कंपनी के अतिरिक्त व्यय का भुगतान किया गया था। इस साल मई में राज्य के प्लानिंग डिपार्टमेंट ने वीजीएफ जारी करने के कदम पर सवाल उठाते हुए परियोजना पर रो’क लगा दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *